Rss Feed
  1. sharjah के एअरपोर्ट  इन्टरनल बस से प्लेन के दरवाजे  की ओर  जा रहा था . मेरे साथ में एक साउथ इंडियन लड़की भी बस में थी .उसके हाथ की मुट्ठी में समां जाने वाला एक छोटा सा लाल रंग का purse था. एक घडी जो कलाई के उलटी ओर बंधी थी, जिसमे समय देखने के लिए हाथ को उल्टा घुमाना पड़ता था . जब उसने अपना छोटा सा purse खोला , उसमे वही चीज़े थी जो अक्सर मध्यम  वर्गीय लड़की के  purse में देखी  जा सकती है . साईं बाबा के फोटो का छोटा सा कार्ड जिसके पीछे लाल रंग का  पूरे  साल का कैलेंडर , प्लास्टिक का ॐ , कुछ सिक्के और बुरी तरह रखे हुए भारतीय नोट .गांधीजी का तो दम ही  घोट दिया और  ऐसा प्रतीत होता था मानो गांधीजी वही चित  पड़े  .  जैसे दुबई  में उनकी एक न चलती हो. purse  के साइड  ka जिप  खोलकर अचानक से उसने एक पासपोर्ट साइज़ फोटो निकाली  जिसमे एक काले रंग के लड़के की  तस्वीर थी  जिसकी hair line  पीछे जा चुकी  था.  पासपोर्ट फोटो  को देख कर  पता चल रहा था की उसका पेट निकला हुआ है और चावल से भरा हुआ है.  लड़की ने लड़के के   फोटो को देख कर  muskariyee , अपनी उंगलिया उसके चहेरे  और  सीने पर  फ़ेरी , और फिर उसके फोटो को dhiram  यानि  (currency  of UAE) के बीच प्यार से रख दिया और गहरी सास  ली . प्लेन बोर्ड किया  शायद अब बस उसे इंतजार था दिल्ली पहुचने का. 
    say something 
    |
    | |


  2. 0 comments (tippni):